Hindi News Portal
header-1

इण्डियन इंस्टीट्यूट ऑफ रिमोट सेंसिंग में मुख्यमंत्री धामी ने आई.आई.आर.एस. संस्थान के विभिन्न वैज्ञानिक एवं तकनीकि संस्थानों के वैज्ञानिकों से संवाद कर किया सम्मानित

खबरे सुने

देहरादून:- इण्डियन  इंस्टीट्यूट ऑफ रिमोट सेंसिंग में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आई.आई.आर.एस. संस्थान के साथ ही देहरादून एवं मसूरी स्थित केन्द्र एवं राज्य के विभिन्न वैज्ञानिक एवं तकनीकि संस्थानों के वैज्ञानिकों से संवाद कर उन्हें सम्मानित किया। उन्होंने संस्थान में पौधरोपण भी किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि मिशन Chandrayaan3 से जुड़े हमारे वैज्ञानिकों ने सिद्ध कर दिया है कि मनुष्य अनंत ऊर्जा का भण्डार तथा असीम क्षमतावान है। उन्होंने इस ऐतिहासिक सफलता के लिए वैज्ञानिकों के साथ इस अभियान से जुड़े सभी सहयोगियों को भी बधाई दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन तथा हमारे वैज्ञानिकों के अथक प्रयासों से हमारे देश ने दुनिया में पहचान बनाई है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को आधुनिक भारत का शिल्पी बताया।

मुख्यमंत्री ने सभी वैज्ञानिक संस्थानों से अपेक्षा की कि वे हमारे उदीयमान विद्यार्थियों को अपने संस्थानों की कार्यप्रणाली से परिचित कराने की भी योजना बनाएं। इससे हमारे देश के भावी कर्णधार देश व प्रदेश की चुनौतियों का सामना करने में सफल होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में हमें अपनी पारिस्थितिकी और आर्थिकी के संतुलन को बनाए रखना है। विज्ञान और प्रौद्योगिकी के सार्थक प्रयोग हेतु लोगों में वैज्ञानिक दृष्टिकोण को बढ़ाना है। इस अवसर पर आईआईआरएस के निदेशक डॉ. आरपी सिंह, यूकॉस्ट के महानिदेशक प्रो. दुर्गेश पंत, निदेशक आई.आई.पी. डॉ. हरेन्द्र सिंह बिष्ट, डील के निदेशक डॉ. ललित चन्द मंगल, इस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलोजी मैनेजमेंट के निदेशक श्रीधर कट्टी, वाडिया संस्थान के निदेशक डॉ. कालाचंद सेन आदि उपस्थित थे।

%d bloggers like this: