Hindi News Portal
header-1

उत्तराखंड की प्रमुख 16 नदियों का पवित्र जल भी कलश के माध्यम से पहुंचेगा सैन्यधाम, 02 जुलाई को देहरादून में होगा स्वागत

खबरे सुने

देहरादून:- सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने गुरुवार को कैंप कार्यालय में आगामी 03 जुलाई को गुनियालगांव में शहीदों के आंगन से एकत्रित की गई पवित्र मिट्टी को सैन्य धाम में निर्मित होने वाले अमर जवान ज्योति के मुख्य स्तंभ की आधारशिला में प्रतिस्थापित होने पर आयोजित कार्यक्रम की सैनिक कल्याण विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा की। मंत्री ने बैठक में अधिकारियों को कार्यक्रम सुनियोजित ढंग से करने के संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बैठक में मंत्री ने कहा आगामी 03 जुलाई को सैन्यधाम में अमर जवान ज्योति का निर्माण प्रारम्भ किया जाएगा। जहां प्रदेश के अमर शहीदों के आंगन से एकत्रित की गयी पवित्र मिट्टी को सैन्यधाम में प्रतिस्थापित किया जाऐगा। मंत्री ने कहा इसके अतिरिक्त, अमर जवान ज्योति की आधारशिला में उत्तराखंड की प्रमुख पवित्र नदियों का जल जिसमे गंगा, यमुना, अलकनंदा, सरस्वती, काली, शारदा, कोसी, सरयू सहित प्रदेश की करीब 16 नदियों का पवित्र जल भी सैन्यधाम निर्मित अमर जवान ज्योति की आधारशिला पर प्रतिस्थापित किया जाएगा। प्रदेश के सभी जनपदों से 01 जुलाई को जल लेकर वाहन प्रस्थान करेंगे और जनपदों से विधायकगण इन जल कलशों को हरी झंडी देकर रवाना करेंगे।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राज्यपाल और मुख्यमंत्री होंगे, सीडीएस अनिल चौहान तथा वीर नारियों भी उपस्थित रहेंगी। बैठक में सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने अधिकारियों को कार्यक्रम को आपसी समन्वय बनाकर कार्य को पूर्ण करने के भी निर्देश दिए। मंत्री ने कहा पीएम नरेंद्र मोदी की परिकल्पना के स्वरूप और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के कुशल नेतृत्व में उत्तराखंड में सैन्यधाम निर्माण हो रहा है। मंत्री गणेश जोशी ने भरोसा जताते हुए कहा कि पांचवे धाम सैन्यधाम के बनने के बाद जिस प्रकार चारों धामों के दर्शन करने यात्री उत्तराखंड पहुंचते हैं। वैसे ही सैन्यधाम को देखने देश-दुनिया से लोग देखने के लिए देहरादून पहुंचेंगे। इसी भावना के साथ सैन्य धाम का निर्माण किया जा रहा है।

इस अवसर पर मेजर जनरल सम्मी सभरवाल, निदेशक ब्रिगेडियर अमृतलाल, एमडी उपनल ब्रिगेडियर जेएनएस बिष्ट सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

%d bloggers like this: