Hindi News Portal
header-1

ऋषिकेश में जल पुलिस कांवड़ियों के लिए बनी देवदूत, गंगा नदी में डूबते हुए बचाई जान

खबरे सुने

ऋषिकेश :  उत्तराखंड में हो रही लगातार बारिश के चलते इन दिनों नदी-नाले उफान पर हैं। लगातार नदियों का जलस्तर बढ़ रहा है। ऐसे में श्रद्धालुओं के तेज बहाव में बहने के मामले सामने आते रहे हैं। ऋषिकेश में एक बार फिर से डूबते हुए कांवड़ियों को जल पुलिस द्वारा बचाया गया। त्रिवेणी घाट में आज दोपहर दिल्ली का एक कांवड़ यात्री गंगा के तेज बहाव में डूबने लगा। काफी दूर तक वह बह गया था। जल पुलिस के जवानों ने इस व्यक्ति को सकुशल बाहर निकाला। इस व्यक्ति के लिए जवान किसी फरिश्ते से कम नहीं है। इस वक्त उफनाती नदी में जवानों ने अपनी जान जोखिम में डालकर इस डूबते युवक की जान बचाई।

त्रिवेणी घाट चौकी प्रभारी विनोद कुमार ने बताया कि रामप्रकाश 45 वर्ष गोकुलपुरी दिल्ली का रहने वाला है और अपने कुछ साथियों के साथ नीलकंठ महादेव जल चढ़ाने आया था। दोपहर के वक्त वह गंगा में नहा रहा था। पर्वतीय क्षेत्र में वर्षा के कारण गंगा का जलस्तर बढ़ा हुआ है। यह यात्री तेज बहाव के साथ करीब 50 मीटर दूर तक बह गया। ड्यूटी पर मौजूद जल पुलिस के जवान विनोद सेमवाल, हरीश गुसाईं, अनूप चंदोला, मनीष कुमार लाइफ जैकेट लेकर गंगा में कूदे। इस यात्री को सकुशल बाहर निकाला गया। त्रिवेणी घाट में कांवड़ यात्रा के दौरान जल पुलिस अब तक पांच श्रद्धालुओं को बचा चुकी है।

%d bloggers like this: