Hindi News Portal
header-1

इनके नाम सबसे ज्यादा शून्य बनाने का रिकॉर्ड

खबरे सुने

आईपीएल में दुनियाभर के युवा और अनुभवहीन खिलाड़ियों को विश्व स्तरीय खिलाड़ियों के साथ खेलना का मौका मिलता है। यह भविष्य में उनके लिए फायदेमंद साबित होगा। यही खिलाड़ी आगे चल कर इस लीग के स्टार खिलाड़ी बन जाते हैं। टी-20 प्रारूप में सबसे तेजी से रन बनाने वाले बल्लेबाज ही स्टार खिलाड़ी बनते हैं।

हालांकि, कभी-कभी तेजी से रन बनाने के चक्कर में बल्लेबाज शून्य पर पवेलियन लौट जाते हैं। टी-20 अंतरराष्ट्रीय ही नहीं, बल्कि आईपीएल में ऐसा कई बार देखने को मिला है। आईपीएल के 15वें सीजन से पहले हम आपको उन खिलाड़ियों के बारे में, जो दुनिया की इस सबसे बड़ी लीग में सबसे ज्यादा बार शून्य पर आउट हुए।

इन दोनों टीमों के लिए वह मैच फिनिशर का रोल भी निभा चुके हैं। इसी वजह से उन्हें ज्यादा दबाव का सामना करना पड़ता था। आईपीएल में रायुडू ने कुल 164 पारियां खेली हैं। इसमें से वह 13 बार शून्य पर आउट हो चुके हैं। आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में वह 12वें नंबर पर हैं। उन्होंने 29.44 की औसत और 127.47 के स्ट्राइक रेट से 3916 रन बनाए हैं।

रहाणे का आईपीएल करियर कुछ खास नहीं रहा है। राजस्थान रॉयल्स के साथ शुरुआती कुछ साल शानदार गुजरने के बाद उनके प्रदर्शन में गिरावट आई। इसके बाद वह दिल्ली कैपिटल्स की टीम में शामिल हुए। दिल्ली में आने के बाद उन्हें नियमित तौर पर प्लेइंग-11 में शामिल नहीं किया गया और रिप्लेसमेंट के तौर पर ही टीम में आए। रहाणे ने अपने आईपीएल में ज्यादातर ओपनर का रोल ही निभाया है और इस साल कोलकाता नाइट राइडर्स ने भी उन्हें इसी रोल के लिए खरीदा है।

इसलिए इसमें कोई हैरानी नहीं कि आईपीएल करियर की 141 पारियों में वे 13 बार शून्य पर पवेलियन लौट चुके हैं। रहाणे ने लीग में 31.52 की औसत और 121.33 के स्ट्राइक रेट से कुल 3941 रन बनाए हैं। भारत की टी-20 और वनडे टीम से बाहर होने के बाद अब रहाणे को टेस्ट टीम से भी बाहर कर दिया है। हालांकि, वह फिर से आईपीएल खेलते हुए जरूर दिखेंगे।

पार्थिव पटेल: यह बाएं हाथ का पूर्व बल्लेबाज आईपीएल में छह टीमों के लिए खेल चुका है। उन्होंने इस लीग में 139 मैच खेले और कई अहम पारियां भी खेलीं। हालांकि, इसी के साथ वह अपने आईपीएल करियर में 13 बार शून्य पर भी आउट हुए। पार्थिव ने अपने आईपीएल करियर में 139 मैचों की 137 पारियों में 22.60 की औसत और 120.78 के स्ट्राइक रेट से कुल 2848 रन बनाए। अभी फिलहाल वह बतौर सपोर्ट स्टाफ मुंबई इंडियंस के साथ काम कर रहे हैं।

हरभजन सिंह: हरभजन ने इसी साल क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया। इस दिग्गज स्पिनर ने आईपीएल में मुंबई इंडियंस, चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स जैसी तीन बड़ी टीमों से खेला है। भज्जी गेंदबाजी के साथ-साथ लोअर ऑर्डर में बल्लेबाजी से भी कमाल करने में माहिर थे। उन्होंने कई बार टीमों को अपने छक्के-चौके से जिताया।

हालांकि, बल्लेबाजी में उनका रिकॉर्ड कुछ खास नहीं रहा है। निचले क्रम में उतरने और डेथ ओवर्स में विपक्षी टीम के सबसे अहम गेंदबाजों को खेलने के कारण 90 पारियों में वह 13 बार शून्य पर आउट हुए। उन्होंने आईपीएल करियर में 163 मैचों की 90 पारियों में 15.71 की औसत और 137.91 के स्ट्राइक रेट से कुल 833 रन बनाए।

%d bloggers like this: